23/06/2024

क्रिप्टो करेंसी में मुनाफों का सपना दिखाकर, 2500 लोगों से 19 करोड़ 50 लाख की ठगी

By Vishal Ki Report जनवरी 8, 2024

क्रिप्टो करेंसी में रातों-रात अमीर बनने का सपना दिखाकर बिहार के बोकारो में 2500 लोगों से 19 करोड़ 50 लाख की ठगी की घटना सामने आई है। यहां पर क्रिप्टो करेंसी के नाम पर अपने अकाउंट में पैसा ट्रांसफर करने वाले शातिर आरोपी को ब्रह्मपुरा थाने के सोडा गोदाम मोहल्ला के शशि कुमार को विक्की को रांची पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। घर की तलाशी लेने पर उसके यहां से क्रिप्टो करेंसी में निवास करने के नाम पर उपयोग किए जाने वाला इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस जप्त करके जांच के लिए आगे की कार्रवाई शुरू कर दी गई है। बेरहाल देश के अलग-अलग हिस्सों में डिजिटल करेंसी । जिसमें एथेरियम बिटकॉइन शीबा इनु समेत क्रिप्टो करेंसी के नाम पर लोगों को रातों-रात अमीर बनने का सपना दिखाते हुए उनके साथ ठगी की कोई पहली घटना नहीं है। देशभर में हिमाचल प्रदेश हो या मध्य प्रदेश हो या बिहार झारखंड अलग-अलग से सैकड़ो घटनाएं आई है। लेकिन लोगों की ना समझी का फायदा उठा कर ऐसे फ्रॉड करने वाले निवेश करने के नाम पर फर्जी वेबसाइट जैसी चीजें बनाकर घोटालों को अंजाम देते रहे हैं।

रांची पुलिस ने सीजीएम पंकज कुमार के कोर्ट में आरोपी को पेश करने के बाद 24 घंटे की रिमांड की अनुमति के साथ अपने साथ ले गई है बहरहाल पूरे मामले मेंकिस तरीके से फ्रॉड हुआ साइबर थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपियों की पूरी डिटेल में संक्षिप्त पोस्ट को पढ़कर समझने की कोशिश करेगा और बचेगा ऐसे फ्रॉड से….

शशिशंकर कुमार उर्फ विक्की ने अपने साथियों के साथ मिलकर बोकारो के लोगों को क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने का लालच देकर उनसे पैसे ठगे।

विक्की ने अपने आप को एक बड़े क्रिप्टो करेंसी एक्सपर्ट के रूप में पेश किया और लोगों को यह बताया कि वह उनके पैसों को बिटकॉइन, इथेरियम, रिपल और अन्य क्रिप्टो करेंसी में निवेश करके उन्हें बहुत जल्दी अच्छा मुनाफा दिलवाएगा।

विक्की ने लोगों से उनके बैंक खातों की जानकारी, आधार कार्ड, पैन कार्ड और अन्य डॉक्यूमेंट्स मांगे और उन्हें एक ऑनलाइन पोर्टल पर रजिस्टर करने के लिए कहा।

विक्की ने लोगों को उनके पैसों का ट्रैक रखने के लिए एक ऐप डाउनलोड करने के लिए भी कहा, जो कि उन्हें क्रिप्टो करेंसी के बाजार की हालत और उनके निवेश की स्थिति दिखाता था।

लेकिन यह सब एक धोखा था। विक्की ने लोगों के पैसों को अपने खातों में ट्रांसफर कर लिया और उन्हें फर्जी ऐप और पोर्टल के माध्यम से झूठी उम्मीदें दिलाते रहे।

जब लोगों को अपने पैसों का वापसी की मांग करने लगे, तो विक्की ने उन्हें धमकाया और उनके डॉक्यूमेंट्स का गलत उपयोग करने की धमकी दी।
विक्की ने इस तरह से करीब 19.50 करोड़ रुपये की ठगी कर ली।

इस मामले की शिकायत रांची साइबर थाने में दर्ज की गई और विक्की के खिलाफ FIR दर्ज की गई।

पुलिस ने विक्की को उसके घर पर छापा मारकर गिरफ्तार किया और उसके पास से क्रिप्टो करेंसी में निवेश करने में उपयोग किया जाने वाला इलेक्ट्रानिक डिवाइस, लैपटॉप, मोबाइल फोन और अन्य सामग्री जब्त की।

पुलिस ने बताया कि विक्की के साथियों को भी जल्द ही पकड़ा जाएगा और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बिटकॉइन क्या है, बिटकॉइन कैसे काम करता है

What is Bitcoin in Hindi

बिटकॉइन एक डिजिटल क्रिप्टोकरेंसी है, जो किसी केन्द्रीय अधिकारी या बैंक के नियंत्रण के बिना इंटरनेट पर लेनदेन करने के लिए उपयोग की जाती है। बिटकॉइन को ब्लॉकचेन नामक एक जालीय लेखा पुस्तिका में रिकॉर्ड किया जाता है, जो सभी लेनदेनों को सुरक्षित और पारदर्शी बनाती है। बिटकॉइन का आविष्कार 2008 में एक अज्ञात व्यक्ति या समूह द्वारा किया गया था, जिन्हें सातोशी नाकामोतो कहा जाता है। बिटकॉइन का मूल्य बाजार की मांग और प्रस्ताव पर निर्भर करता है, और यह अन्य करेंसियों की तरह बदलता रहता है।

By Vishal Ki Report

2017 में देश की राजधानी दिल्ली से पत्रकारिता में PGDJMC और MJMC पढ़ाई के साथ पत्रकारिता में उतारते हुए फर्स्ट डिग्री पास करने के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अल- जजीरा , राइटर और एजेंसी ऑफ फ्रांस प्रेस AFP और गूगल न्यूज़ इंस्टिट्यूट के साथ पत्रकारिता फैक्ट चेक , टीवी पत्रकारिता और डिजिटल पत्रकारिता क्षेत्र में ( TV + PRINT + DIGITAL ) में अनुभव के साथ एक दर्जन से अधिक सर्टिफिकेट कोर्स पास के साथ पत्रकारिता करने का 7 वर्षों का देश के अलग-अलग हिस्सों का अनुभव....

Related Post

संबंधित खबरें